DBMS क्या है? इसका उपयोग कैसे किया जाता है (What is DBMS in Hindi?) Leaked on hdhub4u, movievarse and Telegram

What is DBMS in Hindi

DBMS या डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम एक सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन है. जिसका उपयोग डेटाबेस को एक्सेस करने बनाने और प्रबंधित करने के लिए किया जाता है. DBMS की मदद से आप डेटाबेस में डेटा को आसानी से बना पुनर्प्राप्त और अपडेट कर सकते हैं. एक DBMS में डेटाबेस में एडिट करने के लिए कमांड का एक समूह होता है और अंत-उपयोगकर्ताओं और डेटाबेस के बीच एक इंटरफेस के रूप में कार्य करता है.

DBMS एक प्रकार का software होता है जिसकी मदद से database को create किया जाता है और उस डेटाबेस में Data Insert, Update और Delete जैसे task इसी सॉफ्टवेर की मदद से ही perform किये जाते हैं।

डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली का उद्देश्य विभिन्न प्रकार के प्रशासनिक संचालन जैसे ट्यूनिंग, प्रदर्शन निगरानी और बैकअप पुनर्प्राप्ति प्रदान करके डेटाबेस के अवलोकन को सुविधाजनक बनाना है.

DBMS का Full Form क्या है ?

DBMS का Full Form होता है Data Base Management System.

Database Management System के Function क्या है

1. Create Data: DBMS के द्वारा डाटा को क्रिएट किया जाता है अर्थात उसे टेबल में स्टोर किया जाता है.

2. Manage Data: इसमें डाटा को मैनेज किया जाता है ताकि इसे आसानी से एक्सेस किया जा सके.

3. Update Data: इसमें जरूरत के अनुसार डाटा को अपडेट किया जा सकता है.

4. Delete Data: इसमें जिस डाटा की जरूरत नहीं है उस डाटा को डिलीट किया जाता है.

5. Data Backup: इसमें डाटा का बैकअप लिया जाता है ताकि सिस्टम फैलियर होने पर उसे रिकवर किया जा सके.

6. Data Recovery: इसमें सिस्टम फैलियर होने पर डाटा को रिकवर किया जाता है.

DBMS की विशेषताएं

किसी भी तरह के डाटा को स्टोर कर सकता है: एक डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम किसी भी तरह के डाटा को स्टोर करने सक्षम होता है. दुनिया में मौजूद किसी भी प्रकार के डाटा को DBMS में संरक्षित किया जा सकता है.

ACID Properties को सपोर्ट करना: कोई भी DBMS ACID (Atomicity, Consistency, Isolation and Durability) जैसे गुणों का समर्थन करने में सक्षम है.

Data Redundancy को काम करना: यह normalization के नियमों का पालन करती है जिससे डाटा का बिना वजह दोहराव काम हो जाता है.

Backup और Recovery: Database failure जैसी समस्याएं कभी भी आ जाती है. ऐसे समय में यदि डाटा का रिकवर नहीं किया जा सका तो निश्चित रूप से एक बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है. इसलिए सभी डेटाबेस backup और recovery की विशेषता होनी चाहिए.

Data Integrity and Security: यह डेटाबेस की क्वालिटी और विश्वसनीयता को बढ़ाता है. यह डेटाबेस की unauthorized access को रोकता है और इसे अधिक सुरक्षित बनता है.

Database Structure and Definition:एक डेटाबेस में केवल डाटा ही नहीं बल्कि डाटा की सभी संरचनाएं और परिभाषाए भी होनी चाहिए. डाटा स्वयं दर्शाता है की किस प्रकार के टास्क उपयोग की जनि चाहिए। यह data structure, type,format और उनके बीच के संबंध को दर्शाता है.

Database Management system के प्रकार

DBMS मुख्य रूप से चार प्रकार के होते है:

  1. Hierarchical DBMS: इस प्रकार की डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली पूर्ववर्ती-उत्तराधिकारी प्रकार की संबंधों की एक शैली दिखाती है. आप इसे एक पेड़ के समान मान सकते हैं, जहां पेड़ के नोड्स रिकॉर्ड का प्रतिनिधित्व करते हैं और पेड़ की शाखाएं खेतों का प्रतिनिधित्व करती हैं.

2. Relational DBMS (RDBMS): इस प्रकार के डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली में एक संरचना होती है जो उपयोगकर्ताओं को डेटाबेस में डेटा के एक और टुकड़े के संबंध में डेटा को पहचानने और एक्सेस करने की अनुमति देती है. इस प्रकार के DBMS में, डेटा को तालिकाओं के रूप में संग्रहीत किया जाता है.

3. Network DBMS:इस प्रकार का डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम कई संबंधों का समर्थन करता है जहां कई उपयोगकर्ता रिकॉर्ड लिंक किए जा सकते हैं. इस प्रकार के मॉडल में एक चाइल्ड के एक से अधिक parent भी हो सकते है. इस प्रकार के सम्बन्ध को many-to-many relational कहा जाता है.

4. Object-oriented DBMS: इस प्रकार का डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम ऑब्जेक्ट्स नामक छोटे व्यक्तिगत सॉफ्टवेयर का उपयोग करता है. यहां, प्रत्येक ऑब्जेक्ट में डेटा का एक टुकड़ा होता है और डेटा के साथ किए जाने वाले कार्यों के लिए निर्देश होते हैं.

DBMS Software कौन-कौन से है:

  • Oracle
  • Foxpro
  • MySQL
  • SQlite
  • Microsoft SQL Server
  • MariaDB
  • Microsoft Access

DBMS के क्या फायदे है? (10 Advantages of DBMS) |
डीबीएमएस के लाभ और हानि

  • यह query language का उपयोग करके डेटा के विभिन्न स्वरूपों को संग्रहीत करने और पुनर्प्राप्त करने के लिए कई तरह के तरीके प्रदान करता है.
  • यह एक केंद्रीकृत डेटाबेस प्रणाली की अपनी प्रकृति के कारण आसानी से बनाए रखा जा सकता है.
  • Data redundancy को काम करता है.
  • न्यूनतम डेटा डुप्लिकेट और अतिरेक के साथ डेटा सुरक्षा और अखंडता प्रदान करता है.
  • उन उपयोगकर्ताओं को अधिकृत करता है जो डाटा की देख रेख, शेयर और उसे यूज़ कर सकता है.
  • DBMS की वजह से एप्लीकेशन development में भी बहुत ही कम समय लगता है.
  • यह multi user environment को support करता है.

DBMS के क्या नुकसान है (Disadvantages of DBMS)

  • डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम अक्सर जटिल सिस्टम होते हैं.
  • Hardware और Software की कीमत अधिक होती है.
  • अधिकांश Multinational कंपनियां अपने डेटा को एक ही डेटाबेस में संग्रहीत करती हैं. इसलिए, यदि वह डेटाबेस किसी भी कारण से क्षतिग्रस्त हो गया है, तो पूरा डेटा खो जाएगा.
  • DBMS काफी बड़ा सॉफ्टवेयर है, इसलिए इसे रन करने के लिए सिस्टम में बहुत सारी स्पेस और मेमोरी की आवश्यकता होती है.
  • कई बार यह बहुत ही Complex system होता है.
  • DBMS जिसे आप उपयोग करना चाहते हैं, वह संगठन की परिचालन आवश्यकताओं के अनुकूल नहीं हो सकता है.

DBMS का इतिहास (DBMS History in Hindi)

  • 1960: Charles Bachman ने पहला डीबीएमएस सिस्टम डिजाइन किया
  • 1970: Ted Codd ने आईबीएम के लिए Information Management System (IMS) बनाया जिसके लिए पहली बार relational model का उपयोग हुआ।
  • 1976: Peter Chen ने Entity-Relationship Model को गढ़ा और परिभाषित किया जिसे E-R Model के रूप में भी जाना जाता है।
  • 1980: रिलेशनल मॉडल पर आधारित DBMS का बहुत उपयोग होने लगा और SQL standard को ISO और ANSI द्वारा adopt किया गया।
  • 1985: Object-Oriented DBMS (OODBMS) विकसित हुआ।
  • 1990 के दशक में: Relational-DBMS में ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेशन का समावेशन हुआ। इससे Enterprise Resource Planning (ERP), Management Resource Planning (MRP), OLAP, Warehousing आदि का विकास हुआ।
  • 1991: Microsoft ने MS Access को एक personal DBMS के रूप में Windows में स्थापित किया।
  • 1995: पहला इंटरनेट डेटाबेस application का उपयोग हुआ।
  • 1997: XML ने डेटाबेस प्रोसेसिंग के लिए आवेदन किया। कई vendors XML को DBMS उत्पादों में integrate करना शुरू किया।

DBMS फुल फॉर्म क्या है हिंदी में (DBMS Full Form in Hindi) ?

Database Management system (डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली)

DBMSक्या है

DBMS या डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम एक सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन है. जिसका उपयोग डेटाबेस को एक्सेस करने बनाने और प्रबंधित करने के लिए किया जाता है.

ये भी पढ़े:

Leave a Comment